Bollywood Movies

कब्रिस्तान में बैठे-बैठे कादर खान को मिला एक्टिंग का मौका, पहली बार 1500 रुपये देख हुए थे बेहाल

[ad_1]

Kader Khan Unknown Facts: वह न सिर्फ बेहतरीन एक्टर थे, बल्कि शानदार लेखक भी थे. आलम यह है कि उनके लिखे डायलॉग आज भी लोगों की जुबां पर रहते हैं. हम बात कर रहे हैं अपने जमाने के मशहूर कलाकार, बेहतरीन कॉमेडियन और उम्दा लेखक कादर खान की, जिन्होंने 300 से ज्यादा फिल्मों में काम करके अपनी काबिलियत से हर किसी को अपना मुरीद बना लिया. 22 अक्टूबर 1937 के दिन अफगानिस्तान के काबुल में जन्मे कादर खान भले ही इस दुनिया को अलविदा कह चुके हैं, लेकिन उनके दीवानों की गिनती आज भी कम नहीं हुई है. बर्थ एनिवर्सरी स्पेशल में हम आपको कादर खान की जिंदगी के चंद पन्नों से रूबरू करा रहे हैं. 

इस वजह से आए थे हिंदुस्तान
अफगानिस्तान में जन्मे कादर खान के पिता अब्दुल रहमान थे, जबकि मां इकबाल बेगम ब्रिटिश इंडिया से ताल्लुक रखती थीं. कादर खान के तीन बड़े भाई भी थे, लेकिन महज आठ साल की उम्र तक तीनों ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया. ऐसे में कादर खान की मां बुरी तरह घबरा गईं और अपने उन्हें लेकर मुंबई में बस गईं. 

संघर्षों में गुजरा कादर खान का बचपन
मुंबई में कादर खान के परिवार ने एक बस्ती में अपना आशियाना बनाया, जहां वह लगातार आर्थिक तंगी से जूझते रहे. आलम यह था कि पूरे परिवार को सप्ताह में महज तीन दिन ही भरपेट खाना मिलता था. तमाम दिक्कतों के बावजूद कादर खान की मां ने उनकी पढ़ाई में किसी भी तरह की रुकावट नहीं आने दी. मां की मशक्कत के चलते कादर खान ने सिविल इंजीनियर कीं और उसके प्रोफेसर भी बन गए. 

कब्रिस्तान में बैठे-बैठे बने एक्टर
कॉलेज में पढ़ाते-पढ़ाते कादर खान नाटकों में भी काम करने लगे और डायलॉग आदि लिखने लगे. वह रात के वक्त अक्सर कब्रिस्तान में चले जाते थे और वहां जोर-जोर से चिल्लाकर रियाज करते थे. एक बार उनके चेहरे पर टॉर्च की रोशनी पड़ी. टॉर्च दिखाने वाले शख्स ने कादर खान से पूछा कि यहां क्या कर रहे हो? कादर खान ने जवाब में कहा कि दिन में जो कुछ भी पढ़ता हूं, रात में यहां आकर रियाज करता हूं. उस शख्स ने कादर खान को एक्टिंग करने की सलाह दे दी. वह शख्स कोई और नहीं, बल्कि अशरफ खान थे, जो फिल्मी दुनिया से ताल्लुक रखते थे. 

पहली बार 1500 रुपये देख ऐसी हो गई थी हालत
अशरफ खान से मुलाकात के बाद कादर खान के लिए फिल्मी दुनिया की राह खुल गई. उन्होंने सबसे पहले नरेंद्र बेदी की फिल्म जवानी दीवानी में काम किया. इस फिल्म में कादर खान ने न सिर्फ अपनी अदाकारी का जादू दिखाया, बल्कि डायलॉग्स भी लिखे. इसकी एवज में कादर खान को 1500 रुपये मिले, जिन्हें देखकर वह हैरान रह गए. दरअसल, कादर खान ने उससे पहले इतने सारे पैसे एक साथ कभी नहीं देखे थे. 31 दिसंबर 2018 के दिन कनाडा में कादर खान का निधन हो गया था.

Ramayan में रावण बनने के लिए KGF स्टार Yash ले रहे हैं भारी भरकम फीस? रकम सुनकर उड़ जाएंगे होश

.

[ad_2]

Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button